You are here
Home > Politics

बीजेपी के लिए तमिलनाडु से आयी अच्छी खबर, इस बड़ी पार्टी के साथ गठबंधन होना लगभग तय!

बीजेपी ने लोकसभा चुनाव की तैयारियों के लिए कमर कस ली है। पीएम नरेंद्र मोदी एक बार फिर से 2014 की कामयाबी दोहराने के लिए हर जतन कर रहे हैं। मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में हार के बाद पार्टी ने दक्षिण भारत के राज्यों पर निगाहें गड़ा दी हैं। पीएम मोदी ने आज एनडीए के पूर्व सहयोगियों को फिर से गठबंधन में शामिल होने का न्योता दिया है।

इसके साथ ही तमिलनाडु में भारतीय जनता पार्टी अन्ना डीएमके से तालमेल करने पर विचार कर रही है। AIADMK की राजनीति जिस तरह से पिछले दो साल से भाजपा और केंद्र सरकार से हैंडल हो रही है उसे देख कर काफी समय से अंदाजा लगाया जा रहा था कि दोनों में तालमेल होगा। अब खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कह दिया है कि पार्टी पुराने साथियों से तालमेल के लिए तैयार है। ध्यान रहे छह साल सत्ता में रहने के बाद 2004 के चुनाव से पहले भी अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली भाजपा ने अन्ना डीएमके से तालमेल किया था। भाजपा के लिए यह फैसला बहुत गलत साबित हुआ था।

जब 1999 में जयललिता ने भाजपा की सरकार गिराई थी उसके बाद भाजपा का तालमेल डीएमके से था। 2004 में डीएमके को छोड़ कर भाजपा ने फिर जयललिता की अन्ना डीएमके से तालमेल किया। और हार कर सत्ता से बाहर हुई। दो साल के बाद 2006 के चुनाव में जयललिता भी चुनाव हार कर सत्ता से बाहर हो गईं और डीएमके की सरकार बनी।

अब एक बार फिर बिल्कुल वैसी ही स्थिति अभी तमिलनाडु में है। वहां अन्ना डीएमके की सरकार है और केंद्र की भाजपा सरकार उसके साथ तालमेल करने जा रही है। और दो साल के बाद वहां विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं। सो, कई जानकारों का आकलन है कि 2004 और 2006 का इतिहास 2019 और 2021 में दोहराया जा सकता है!

Loading...

Leave a Reply

Top