Home > राष्ट्रीय > बाबा का ढाबा: पैसों के गबन विवाद में सामने आया यूट्यूबर गौरव वासन का पक्ष, बताई पूरी कहानी।

बाबा का ढाबा: पैसों के गबन विवाद में सामने आया यूट्यूबर गौरव वासन का पक्ष, बताई पूरी कहानी।

दिल्ली के मालवीय नगर में लोकप्रिय भोजनालय ‘बाबा का ढाबा’ के मालिक कांता प्रसाद ने यूट्यूबर गौरव वासन के खिलाफ धन की हेराफेरी की शिकायत दर्ज कराई है. अब इस मामले में यूट्यूबर गौरव वासन का पक्ष भी सामने आया है. गौरव ने दावा किया है कि उन्होंने पूरा पैसा बाबा को दे दिया है. हाल ही में 80 साल के कांता प्रसाद का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसके बाद वह काफी फेमस हो गए थे.

सोशल मीडिया पर वायरल इस वीडियो में उन्होंने लॉकडाउन के दौरान दुकान न चल पाने से आर्थिक तंगी को लेकर अपनी व्यथा बतायी थी. उन्होंने यूट्यूबर वासन के सोशल मीडिया अकाउंट पर साझा किए गए वीडियो में अपने संघर्ष के बारे में बात की थी.

कांता प्रसाद ने अपनी शिकायत में क्या कहा है?

पुलिस को दी गई अपनी शिकायत में कांता प्रसाद ने कहा कि वासन ने उनका वीडियो शूट किया और इसे ऑनलाइन पोस्ट किया और सोशल मीडिया पर जनता को उन्हें पैसे देने की अपील की. लेकिन वासन ने जानबूझकर केवल अपने और अपने परिवार/दोस्तों की बैंक डिटेल्स और मोबाइल नंबर शेयर किए और मुझे कोई भी जानकारी दिए बिना कई प्रकार के भुगतानों के माध्यम से दान की भारी राशि अपने पास इकट्ठा की.

बाबा ने न्यूज़ वालो से कहा, ‘’गौरव ने हमारे साथ धोखा किया है. उसने अपना अपनी बीवी और अपने भाई के खातों की डिटेल्स दी थी. गौरव ने कहा था कि दो लाख रुपए हमारे खाते में आए हैं और वह हम दे देंगे. एक वीडियो आया था, जिसमे गौरव किसी से कह रहे थे कि बाबा के खाते में 20 लाख रुपये आए हैं, यह उन्हें कैसे पता? हमारा खाता तो सील है. गौरब ने दो लाख रुपए दिए हैं.’’

गौरव वासन ने क्या कहा है?

इस पूरे मामले में यूट्यूबर गौरव वासन ने भी अपना पक्ष सामने रखा और साथ ही अपने एकाउंट्स की डिटेल्स भी शेयर की. उन्होंने यह भी बताया कि उन्होंने अपनी एकाउंट डिटेल्स पहले दिन लोगों के साथ शेयर की, जिसमें लोगों ने बाबा की मदद के लिए पैसे भेजे थे. गौरव का यह भी कहना है कि उनके पास पेटीएम नहीं है, इसलिए उन्होंने अपनी पत्नी की पेटीएम डिटेल्स शेयर की और पेटीएम में भी लोगो ने पैसे भेजे, पूरा पैसा बाबा को दे दिया गया है.

दरअसल इस पूरे मामले पर विवाद तब शुरू हुआ जब, 25 अक्टूबर को लक्ष्य चौधरी नाम के यूट्यूबर ने एक वीडियो बनाई, जिसमें गौरव पर यह आरोप लगाया गया कि उन्होंने बाबा के साथ पैसे का गबन किया और उनके पास ज़्यादा पैसे आए है, जिसको उन्होंने बाबा को नहीं दिया. इसी वीडियो में बाबा कांता प्रसाद और उनके मैनेजर तुशांत ने भी अपनी बात रखी कि गौरव ने उन्हें पैसे नहीं दिए. तुशांत बाबा के साथ उस वीडियो के वायरल होने के अगले ही दिन से हैं और अब बाबा का पूरा बिज़नेस वही संभालते है.

गौरव ने बाबा को दिए दो लाख रुपए

लक्ष्य चौधरी के वीडियो जारी करने के अगले ही दिन गौरव बाबा के पास पहुंचे और उन्हें दो लाख 33 हज़ार 677 रुपये का चेक दिया. गौरव ने चेक की डिटेल्स और साथ ही बाकी पैसा जो बाबा को दिया है, उसकी डिटेल्स भी शेयर की हैं. अब पुलिस तक इस मामले की लिखित शिकायत तो पुहंच गई है, लेकिन अभी इस मामले में एफआईआर दर्ज नहीं हुई है.

Source: ABP News