You are here
Home > Politics

सवर्णो को 10% आरक्षण दिए जाने पर आशुतोष ने की आलोचना, उनके बेतुके लॉजिक पर लोगो ने दिया ये जबाब!

लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है! सोमवार को कैबिनेट बैठक में सवर्ण जातियों के लिए 10 फीसदी आरक्षण देने का फैसला लिया गया है! सोमवार को हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में फैसला किया गया है कि अब सवर्ण जातियों को 10 फीसदी आरक्षण दिया जाएगा! ये आरक्षण आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों को दिया जाएगा! माना जा रहा है कि मंगलवार को मोदी सरकार संविधान संशोधन बिल संसद में पेश कर सकती है! बता दें कि मंगलवार को ही संसद के शीतकालीन सत्र का आखिरी दिन है!

सवर्णो को 10% आरक्षण मिलने से जहाँ एक तरफ हर कोई इसे मोदी सरकार द्वारा लिया गया इतिहासिक फैसला बता रहा है तो वही दूसरी तरफ एक तबका ऐसा भी है जिसे ये फैसला हजम नहीं हो रहा है! जी है ये वही तथाकथिक भुद्धिजीवी लोग है जिन्हे हर अच्छे-बुरे फैसलों पर सरकार की तंग खींचने की आदत सी पड़ गयी है! इन्हे इसलिए भी बुरा लग रहा है क्योकि अब ये आरक्षण की राजनीती सिर्फ ST/SC के लिए नहीं कर पाएंगे!

मोदी सरकार के इस इतिहासिक फैसले के विरोध में कई बुद्धिजीवी और राजनेता वयानबाजी कर रहे है! इसी कड़ी में बरिष्ट पत्रकार और आम आदमी पार्टी के भूतपुर नेता आशुतोष गुप्ता भी शामिल हो गए है! उनके हाल ही में किये गए कुछ ट्वीट्स को देखकर लगता है की उनको काफी गहरा सदमा पंहुचा है! आशुतोष ने ट्विटर पर लिखा है:- “वैसे ये सवाल ठीक है जब नौकरी ही नहीं है तो आऱक्षण किसे दोगे ? सिर्फ दिवास्वप्न !!!”

ऐसे विचार रखने वालो को जनता खाशकर स्वर्ण गरीब कभी माफ़ नहीं करेगा! ये वही लोग है जो अपने फायदे के लिए दलित सावर्ड की राजनीती करते है और जब कोई पार्टी सवर्णो के हित में कोई काम करती है तो आलोचना करने का एक भी मौका नहीं छोड़ते है!

Loading...

Leave a Reply

Top