Home > राष्ट्रीय > धरना रहेगा जारी मगर नही कराएंगे टेस्ट, दिल्लीवासियों के जान के दुश्मन बने हुए है आंदोलनकारी

धरना रहेगा जारी मगर नही कराएंगे टेस्ट, दिल्लीवासियों के जान के दुश्मन बने हुए है आंदोलनकारी

देश की राजधानी दिल्ली में एक बार फिर पिछले 24 घंटों में रिकॉर्ड मौत दर्ज हुई हैं। पिछले 24 घंटे में 380 मरीजों की मौत कोरोना वायरस से हुई है। यह आंकड़ा अब तक का सबसे ज्यादा है। इसके साथ ही पिछले 24 घंटों में कोरोनावायरस के 20,201 नए मामले सामने आए, लेकिन पॉजिटिविटी रेट फिर भी 35% से ऊपर है। आज अप्रैल महीने के सबसे कम टेस्ट रिपोर्ट हुए, इसलिए संक्रमण के मामले कम जरूर हैं लेकिन पॉजिटिव रेट ज्यादा है।

इस बीच सिंघु, टीकरी व गाजीपुर बार्डर पर 150 दिन से धरना दे रहे कृषि कानून विरोधी प्रदर्शनकारी कोरोना के सुपर स्प्रेडर बन सकते हैं। बार्डर पर प्रदर्शनकारी न मास्क लगा रहे हैं और न ही शारीरिक दूरी का पालन कर रहे हैं। ऐसे में हर बार्डर पर एक सौ से ज्यादा प्रदर्शनकारियों को खांसी, जुकाम जैसे लक्षण आ रहे हैं।

अनुमान लगाया जा रहा है कि 15 फीसद प्रदर्शनकारी इस समय बीमार हैं। कोरोना टेस्ट वह करवा नहीं रहे हैं, इसलिए संक्रमण का पता नहीं लग पा रहा है। नतीजन ये बीमार प्रदर्शनकारी दूसरे प्रदर्शनकारियों व आसपास के गांवों में बिना रोकटोक घूम रहे हैं। सिंघु बार्डर-नरेला रोड पर यह आमतौर पर देखने को मिलता है। इसके अलावा प्रदर्शनकारी दिल्ली में नरेला, बवाना तक बिना मास्क के ही आते जाते रहते हैं। इनको न तो पुलिस का डर है और न ही जुर्माने का। ऐसे में प्रदर्शनकारी खुद की जान के दुश्मन तो बन ही रहे हैं, साथ ही दिल्लीवासियों के जान के भी दुश्मन बने हुए हैं।

कृषि कानून विरोधी प्रदर्शनकारी दिल्ली पुलिस के सामने लाकडाउन की धज्जियां उड़ाते हैं। नरेला रोड पर मास्क न लगाने पर चालान भी नहीं काटे जा रहे। सिंघु बार्डर पर नहीं हो रही कोरोना जांच सिंघु बार्डर पर दिल्ली की सीमा में सरकार की ओर से कोई भी कोरोना जांच केंद्र नहीं खोला गया है। इसके साथ-साथ नरेला रोड पर भी कोई जांच नहीं की जा रही। यहां से हर रोज लोग दिल्ली-हरियाणा में आवागमन करते हैं। टेस्ट न होने का फायदा उठाकर प्रदर्शनकारी दिल्ली के लोगों को संक्रमित कर सकते हैं।

गौरतलब हो, दिल्ली में अब तक कुल मामले 10,47,916 हो चुके हैं। वहीं, पिछले 24 घंटे में 22,055 मरीज ठीक हुए हैं। अब तक कुल ठीक हुए मरीजों की संख्या की बात करें तो यह आंकड़ा 9,40,930 हो गया है। पिछले 24 घंटे में हुई 380 मौत समेत दिल्ली में अब तक कोरोना से 14,628 लोग जांव गंवा चुके हैं। वहीं, अभी यहां पर कुल एक्टिव मामले 92,358 हैं।