Home > राष्ट्रीय > नवाजुद्दीन ने कहा बॉलीवुड में अब नेपोटिज्म, इनसाइडर-आउटसाइडर की बहस बंद होना चाहिए

नवाजुद्दीन ने कहा बॉलीवुड में अब नेपोटिज्म, इनसाइडर-आउटसाइडर की बहस बंद होना चाहिए

Mumbai: बॉलीवुड पिछले कुछ समय से सिर्फ गलत चीजों की वजह से ही सुर्खियों में बना हुआ है. अभिनेता शुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से बॉलीवुड में कभी नेपोटिज्म का मुद्दा तो कभी ड्रग्स की खबरों ने बॉलीवुड के एक्टरों को परेशान कर दिया है. इस बीच हिंदी फिल्मों के बेहतरीन एक्टर्स में से एक नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने कहा है कि यह बहुत गलत है कि बॉलीवुड को एक खराब जगह बताया जा रहा है.

नवाज़ुद्दीन सिद्धिकी ने एक इंटरव्यू में कहा कि बॉलीवुड में एक अच्छी बात यह है कि सभी लोग अपने विचार खुलकर सामने रखते हैं, लेकिन खुलकर विचार रखने के कारण अगर फिल्म इंडस्ट्री के बारे में सिर्फ नेगेटिव बातें ही कही जाएंगीं तो यहां आने वाले नए टैलेंट अपना इरादा बदल लेंगे.अगर ऐसा ही रहा तो बॉलीवुड से लोगों का मोह भंग हो जायेगा.

नवाजुद्दीन ने आगे कहा कि बॉलीवुड के बारे में जिस तरह से बातें बोली जा रही हैं, उससे तो लोग यही समझेंगे कि, इंडस्ट्री में मर्डर होते हैं, एक्टर ड्रग्स लेते हैं और गांजा पीते हैं. नवाजुद्दीन ने कहा कि  बॉलीवुड में अब इनसाइडर-आउटसाइडर और नेपोटिज्म की बहस बंद हो जानी चाहिए.

बता दें पिछले दिनों एक्ट्रेस और सांसद जया बच्चन ने भी राजस्यभा में कहा था “कल हमारे एक सांसद सदस्य ने लोकसभा में बॉलीवुड के खिलाफ कहा. यह शर्मनाक है. मैं किसी का नाम नहीं ले रही हूं. वो खुद भी इंडस्ट्री से आते हैं. जिस थाली में खाते हैं, उसी में छेद करते हैं. गलत बात है. मुझे कहना पड़ रहा है कि इंडस्ट्री को सरकार की सुरक्षा और समर्थन की जरूरत है.”

जया बच्चन का इशारा रवि किशन की तरफ था जिन्होंने लोकसभा में ड्रग्स का मुद्दा उठाते हुए कहा था, “भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में ड्रग की लत काफी ज्यादा है. कई लोगों को पकड़ लिया गया है. एनसीबी बहुत अच्छा काम कर रही है. मैं केंद्र सरकार से अपील करता हूं वह इस पर सख्त कार्रवाई करें, दोषियों को जल्द से जल्द पकड़े और उन्हें सजा दे जिससे की पड़ोसी देशों की साजिश का अंत हो सके.”

Input: ABP Live