Home > राष्ट्रीय > रोटी बैंक के संस्थापक किशोर कांत तिवारी का कोरोना से निधन, जाते-जाते बड़ी सीख दे गये..

रोटी बैंक के संस्थापक किशोर कांत तिवारी का कोरोना से निधन, जाते-जाते बड़ी सीख दे गये..

वाराणसी: बेसहारा लोगों के लिए रोटी बैंक की स्थापना करने वाले समाजसेवी किशोर कांत तिवारी का गुरुवार को कोरोना संक्रमण से निधन हो गया। किशोर कांत तिवारी ने अपने रोटी बैंक के माध्यम से गरीब और लाचार लोगो तक रोजाना खाना पहुचाने का काम करते थे। हमेशा उन्होंने गरीब और असहाय लोगों का पेट भरा लेकिन कोरोना की चपेट में आने की वजह से उनकी मौत हो गई। किशोर ने मौत से कुछ दिन पहले फेसबुक लाइव के जरिए अपने दो वीडियो शेयर किए थे, जो अब वायरल हो रहे हैं।

वीडियो में उन्होंने लोगों से अपील की थी कि वो कोरोना को हल्के में न लें। उन्होंने लोगों को आगाह किया था कि इस बार का करना 2020 वाले से काफी खतरनाक है और उन्होंने बताया कि हालात बहुत खराब हक चुके है। लोगों से घर पर रहने की अपील की और बिना वजह बिना मास्क बाहर नही जाने को कहा। उन्होंने अपने वीडियो में बताया कक उनकी हालत इतनी खराब हो चुकी है कि वो 10 कदम बहक पैदल नही चल सकते।

कोरोना की वजह से किशोर कांत तिवारी का निधन
7 दिन पहने बनाए अपने वीडियो में किशोर कांत तिवारी बता रहे हैं कि बनारस में कोरोना तेजी से बढ़ रहा है, वो खुद भी बुखार से पीड़ित थे। लेकिन उन्होंने खुद को सिर्फ टाइफाइड का ही मरीज बताया था। किशोर कांत तिवारी की मौत से लोग सकते मे हैं। बता दें, किशोर कांत अपने माता पिता को साथ में लेकर मित्र रोशन पटेल के साथ सामनेघाट में किराये के मकान में रहते थे।

किशोर कांत तिवारी अपने पहले वीडियो में बताया था कि उन्होंने सारी जांच करा ली है सिर्फ टाइफाइड ही निकला और जल्द ही ठीक होने की बता कही थी। वो पिछले 10 दिनों से बुखार से पीड़ित थे और उनका इलाज चल रहा था। पिछले 5 दिनों से हालत खराब होने पर दो निजी अस्पताल में इलाज कराया। दो दिन पहले उनकी कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी जिसके बाद उनकी हालत और खराब हो गई थी। गुरुवार को किशोर कांत ने अंतिम सांस ली।