Home > राष्ट्रीय > गोदी मीडिया पर जमकर बरसे रोहित सरदाना, मोहल्ले के आवारा लड़को से की तुलना।

गोदी मीडिया पर जमकर बरसे रोहित सरदाना, मोहल्ले के आवारा लड़को से की तुलना।

सोशल मीडिया में पिछले कुछ समय से मीडिया के एक तबके को गोदी मीडिया के नाम से संबोधित किया जाता रहा है। लोग गोदी मीडिया के नाम से उन मीडिया संस्थानों को संबोधित कर रहे हैं जो सरकार की जी हुजूरी में लगे हुए हैं। दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन में भी कुछ न्यूज चैनलों को गोदी मीडिया बताते हुए बहिष्कार करने का मामला सामने आया। इससे पहले नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ चल रहे प्रदर्शनों में भी ऐसी ही चीजें देखने को मिली थीं।

हिंदी न्यूज चैनल आज तक (Aaj Tak) के एंकर रोहित सरदाना (Rohit Sardana) ने अपने एक सोशल मीडिया पोस्ट में बताया है कि आखिर ये गोदी मीडिया है क्या। रोहित सरदाना ने मोहल्ले के आवारा लड़कों से गोदी मीडिया की तुलना की है। रोहित सरदाना का यह सोशल मीडिया पोस्ट वायरल हो रहा है। लोग शेयर करते हुए लिख रहे हैं कि रोहित सरदाना ने गोदी मीडिया की क्या खूब परिभाषा बताई है।

रोहित सरदाना ने अपने इस वीडियो पोस्ट में कहा- आप सबने देखा होगा कि मोहल्ले में कुछ गुंडे किस्म के लड़के होते हैं जो हमेशा चौराहों पर बैठे रहते हैं और वहां आने जाने वाली लड़कियों पर बुरी नजर रखते हैं। वो लोग उन लड़कियों में से किसी को भी पसंद कर लेंगे और कह देते हैं कि ये तुम्हारी भाभी हैं। अगर वो लड़की मना कर दे कि हमें तुम्हारी दोस्ती पसंद नहीं है तो वो लोग उस लड़की आवारा बदजलन कहने लगते हैं।

रोहित ने कहा कि वह गुंडे लड़के प्रस्ताव ठुकराए जाने के बाद जगह-जगह दीवारों पर उन लड़कियों के बारे उल्टी सीधी चीजें लिखने लगते हैं। ठीक ऐसा ही कुछ राजनीतिक दलों के साथ भी है कि जिनकी गोद में हम जाकर नहीं बैठे वो लोग गोदी मीडिया कहकर शोर करने लगते हैं।

रोहित सरदाना ने कहा कि ऐसे राजनीतिक दलों को आम जनता सबक सिखाए। उन्होंने कहा कि लोगों ने सबक सिखाया भी है। बकौल रोहित सरदाना गोदी मीडिया की यही परिभाषा है।