Home > राष्ट्रीय > खाते में थे मात्र 1983 रुपये, बैंक की गलती से अचानक बना करोड़पति खर्च कर डाले 76 लाख, फिर…

खाते में थे मात्र 1983 रुपये, बैंक की गलती से अचानक बना करोड़पति खर्च कर डाले 76 लाख, फिर…

लखनऊ के एक दंपती के बैंक खाते में मात्र 1983 रुपये थे। बावजूद पेट्रोल पंप कर्मी करन शर्मा ने 76 लाख रुपये की खरीदारी कर डाली। दरअसल अचानक जब उसे बैंक खाते में एक करोड़ से अधिक रुपये होने की जानकारी हुई तो होश खो बैठा। उसने इसकी जानकारी बैंक अधिकारियों को भी नहीं दी। आनन फानन एक लक्जरी कार, एक बाइक खरीद डाली। पत्नी को लेकर सर्राफा बाजार पहुंचा और बेशकीमती जेवर खरीदे। उसने सारी खरीदारी पांच दिन के अंदर कर डाली। खाते से लगातार भारी रकम निकलने की जब जानकारी बैंक अधिकारियों को हुई तो पड़ताल शुरू की।

पता चला कि तकनीकी दिक्कतों के कारण करन का कार्ड बैंक सर्वर से लिंक हो गया है। इसके कारण बैंक के खाते से रुपये निकलते जा रहे हैं। बैंक अधिकारियों ने खाता फ्रीज करके करीब 41.21 लाख रुपये रोक लिए। इसके बाद करन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने करन और उसकी पत्नी को गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से 7.56 लाख रुपये का माल बरामद कर लिया। करन मूल रूप से उन्नाव के सोहरामऊ के मनहौर कंचनपुर सिरविया गांव का रहने वाला है। सेंट्रल बैंक आफ इंडिया बंथरा शाखा में उसका खाता है।

इंस्पेक्टर बंथरा अजय प्रताप सिंह ने बताया कि करन एक पेट्रोल पंप पर नौकरी करता है। उसके खाते में 1983 रुपये थे। 17 दिसंबर को उसने डेबिट कार्ड से कुछ खरीदारी की तो पता चला कि खाते में एक करोड़ से अधिक की रकम है। यह कहीं से आ गई है। इसके बाद उसने मनमानी खरीदारी शुरू कर दी। एक कार शोरूम में पहुंचा जहां एक एक्सयूवी कार बुक कराई। वहीं दूसरे शोरूम में जाकर एक बाइक बुक कर दी। करन की खुशी का ठिकाना नहीं था। अगले दिन ही वह पत्नी को लेकर सर्राफा बाजार पहुंचा। वहां बेशकीमती जेवर उसके लिए खरीद डाले। एक पेट्रोल पंप पर भविष्य में फ्यूल लेने के लिए करीब ढाई लाख रुपये से अधिक उसने स्वाइप कराकर एडवांस में जमा कर दिए। इस तरह उसने 76 लाख रुपये से अधिक की खरीदारी बिना बैंक को कोई जानकारी दिए कर डाली।

जब इस मामले की जानकारी बैंक प्रबंधक को हुई तो उन्होंने पड़ताल कराई। पता चला कि खाता बैंक सर्वर से लिंक हो गया है। खाता फ्रीज कर 41.21 लाख रुपये रोक लिए। बैंक प्रबंधक ने बंथरा थाने में तहरीर देकर रिपोर्ट दर्ज कराई। इसके बाद पुलिस टीम ने करन और उसकी पत्नी को कटी बगिया के पास से गिरफ्तार कर लिया।

इंस्पेक्टर ने बताया कि करन ने 18.50 लाख रुपये के पत्नी के लिए जेवर खरीदे। 15.71 लाख रुपये की एक्सयूवी कार, पांच लाख रुपये के मोबाइल, 1.33 लाख रुपये की बाइक, 5.50 लाख रुपये का यूको बैंक को चेक दिया। इसके अलावा लाखों रुपये अन्य जगहों पर खर्च किए।