Home > राष्ट्रीय > उत्तराखंड: AAP नेता उमा सिसोदिया का विवादित बयान, उत्तराखंडियों की तुलना कुत्ते से की.. जनता में आक्रोस।

उत्तराखंड: AAP नेता उमा सिसोदिया का विवादित बयान, उत्तराखंडियों की तुलना कुत्ते से की.. जनता में आक्रोस।

उत्तराखंड में 2022 चुनाव को लेकर सियासी घमासान चल रहा है। ऐसे में एक डिबेट के दौरान आम आदमी पार्टी नेता उमा सिसोदिया ने उत्तराखंड की जनता की तुलना कुत्ते से कर डाली, उत्तराखंड की जनता में भारी आक्रोस है उन्हें सभी से माफ़ी मांगने को कहा है।

दरअसल उमा सिसोदिया आम आदमी पार्टी की उत्तराखंड इकाई की नेता हैं जो देहरादून में रहती हैं। वह इस समय पार्टी प्रवक्ता भी हैं। दो दिन पहले एक राजनैतिक बहस कराई जा रही थी जो रितिका थपलियाल द्वारा संचालित किया जा रहा था। बोलने की बारी जब उमा सिसोदिया की आई तो उन्होंने कहा कि खाने-पीने की दुकानों के सामने कुछ कुत्ते होते हैं, लोग उन कुत्तों को लतियाते हैं और कुत्ते दूर चले जाते हैं, लोग रोटी फेंकते हैं और कुत्ते उनकी तरफ को आते हैं। फिर उन्होंने बोला कि ऐसे कुत्तों की पीड़ा को उन्होंने देखा है और आज उत्तराखंड की जनता की हालत वही हो चुके हैं।

यह सुनकर बहस में उपस्थित उत्तराखंड क्रांति दल के नेता सोमेश उन पर भड़के और बहुत कुछ सुना दिया।यह वीडियो जब सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो उत्तराखंड के पहाड़ी लोग उमा सिसोदिया पर जमकर बरसे। लोगों के मन में खूब आक्रोश था जो उमा सिसोदिया के सर फूटा। कई लोगों ने नाराजगी जताई और कई लोगों ने माफी की मांग की। कई लोगों ने उनपर बाहरी पार्टी के सदस्य और गैर पहाड़ी होने के आरोप लगाए।

आजकल उत्तराखंड के पहाड़ी लोगों द्वारा भू कानून की मांग जोरो शोरों से की जा रही है। यह मुद्दा बहुत ज्यादा संवेदनशील बन गया है। ऐसे में इस तरह के बयान पहाड़ी लोगों की भावनाओं को आहत करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं।