Home > राष्ट्रीय > नंदीग्राम से चुनाव हार रहीं ममता बनर्जी ? BJP का दावा- भाजपा के जिलाध्यक्ष को फोन कर लगाई मदद की गुहार

नंदीग्राम से चुनाव हार रहीं ममता बनर्जी ? BJP का दावा- भाजपा के जिलाध्यक्ष को फोन कर लगाई मदद की गुहार

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इस बार नंदीग्राम से अपनी किस्मत आजमा रही हैं तो वहीं कुछ दिन पहले तक उनके साथी रहे और अब बंगाल बीजेपी के बड़े चेहरे हो चुके शुभेंदु अधिकारी उन्हें कड़ी टक्कर दे रहे हैं। कुल मिलाकर देखें तो नंदीग्राम दोनों ही नेताओं के लिए प्रतिष्ठा का केंद्र बन गया है। इसके अलावा दोनों ही दलों की ओर से नंदीग्राम में जीत सुनिश्चित करने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाया जा रहा है।

गौरतलब हो, नंदीग्राम चुनावी संग्राम के बीच भाजपा की ओर से तरह-तरह के दावे किए जा रहे है। भाजपा भी यह मानकर चल रही है कि नंदीग्राम में ममता बनर्जी को कड़ी टक्कर दे रही है। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता अमित मालवीय ने एक वीडियो ट्वीट कर दावा किया है कि नंदीग्राम में ममता बनर्जी और टीएमसी विवश नजर आ रही है। इस वीडियो के जरिये नंदीग्राम में भाजपा के जिलाध्यक्ष प्रोलोय पल और ममता बनर्जी के बीच हुई बात-चीत को दिखाया गया है।

भाजपा की ओर से यह दावा किया जा रहा है कि नंदीग्राम में अपनी हार रही है। ममता बनर्जी ने नंदीग्राम में भाजपा के जिला उपाध्यक्ष प्रोलोय पाल को फोन किया और मदद की गुहार लगाई। इस वीडियो में ममता बनर्जी और प्रोलोय पाल के बीच लंबी बातचीत सुनाई दे रही है। ममता बनर्जी के मदद की गुहार के बाद प्रोलोय पाल ने उनसे कहा कि टीएमसी ने उसे बहुत अपमानित किया है। अब वह अपने परिवार के साथ भाजपा को धोखा नहीं दे सकता है।

नंदीग्राम में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और उनके पूर्व डिप्टी एवं भाजपा उम्मीदवार सुवेन्दु अधिकारी के बीच सीधा मुकाबला है। इस निर्वाचन क्षेत्र में 30 प्रतिशत अल्पसंख्यक वोट चुनाव परिणामों को प्रभावित कर सकते हैं। वहीं, भाजपा और तृणमूल कांग्रेस बहुसंख्यकों के वोट जुटाने के लिए हिन्दुत्व की प्रतिस्पर्धा में भी लगी हैं। वर्ष 2007 में भूमि अधिग्रहण विरोधी आंदोलन के जरिए इस क्षेत्र ने शक्तिशाली वाम मोर्चा शासन की नींव हिला दी थी और बाद में 2011 में इसने तृणमूल कांग्रेस को सत्तारूढ़ करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। उस समय के आंदोलन के दो प्रमुख चेहरे बनर्जी और अधिकारी अब एक-दूसरे के आमने-सामने खड़े हैं।